backlink kya hai | What Is Backlink

हेल्लो दोस्तों आज हम जिस टॉपिक पर बात करेगे वो है की बेकलिंक क्या है (backlink kya hai  ) और इसके इस्तमाल से हम कैसे अपनी website को रैंक करवा सकते है व अपनी website पर google जैसे search इंजन से free traffic ला सकते है आपकी site का SEO भी बढिया होता है
backlink kya hai | What Is Backlink
backlink kya hai | What Is Backlink

what is backlink

     जब भी कोई यूजर आपके द्वारा दिए गये लिंक पर क्लीक कर किसी और website पर जाता है तो उस लिंक को ही बेक becklink कहते है व या किसी और website से यूजर आपकी लिंक पर क्लिक कर आता है तो वो आपकी website का backlink है
अब आप सोच रहे होगे की becklink से website रैंक कैसे  होती है  तो आपको बता दे की google जिस website के सबसे जयादा backlink होते है उसे automatic रैंक कर देता है
backlink kya hai
backlink kya hai

अब आप सोच रहे होगे की इसमें कोनसी बड़ी बात है हम तो एक दिन में ही हजारो backlink बनाकर रैंक कर जायेगे तो आपको बता दे की google एक साथ बनाई गयी backlink को spam मानता है व उसकी पेनल्टी आपके डोमेन की रैंक घटा कर देता है तो ऐसे कम करने से बचे अब अगर आप जानना चाहते है की backlink कैसे बनाये तो पोस्ट पूरी पढ़े

backlinks kaise bnaye 

 आप backlinks को इन तरीको से बना सकते है 
1.Social Media ;- सबसे आसान तरीका Social Media है फ्री में backlinks पाने के लिए आप किसी भी Social Media website पर जैसे facebook, instagram, whatsapp,youtube  qura,आदि पर  अकाउंट बनाकर अपनी links अपनी पोस्ट में दे ताकि यूजर उन पर क्लिक कर आपकी website पर आयेगे

 2.Guest Post;- आप दुसरो की website के लिए फ्री में पोस्ट लिख सकते है जिसके बदले में वो आपका लिंक अपने आर्टिकल में दे देगे इस तरीके से backlinks लेना काफी मुस्किल है क्योकि 100 मेसे 10 website owner ही आपको लिंक देने के लिए मानते है (अगर आप हमारी website से backlink लेना चाहते है तो हमें मेल करे )

3.Comments;- ये तरीका सबसे आसान है आपको किसी भी website पर जाना है अगर उस website में कमेंट्स allow है तो आप कमेंट्स में अपना links दे सकते है इससे भी आपको backlink मिल जायेगी 

Follow Rules for Backlinks

           अब आप उपर दिए किसी भी तरीके से backlink बनाने से पहले इन बातो का ध्यान जरुर रखे वरना आपकी website की रैंक बढ़ने की बजाये कम हो जाएगी 
1.check website rank;- आप किसी भी website से backlink न बनाये बल्कि backlink बनाने से पहले उस डोमेन का रेटिंग domain authority या page authority जरुरु चेक करे अगर उसकी website की रैंक आपकी website से ज्यादा रैंक है तभि गेस्ट पोस्ट या कमेंट में लिंक दे  आप website की रैंक निचे दिए तरीके से चेक कर सकते है 
 website की रैंक चेक करने के लिये आप small tool का इस्तमाल कर सकते है 

2.Link juice Backlinks ;- ये वो backlink है जो आप किसी ऐसे website पर बनाते है झा से आपको dofollow link मिलता है link juice का मतलब है यह से आपको traffic तो मिलता ही है पर साथ में उस domain authority का छोटा सा हिसा आपको भी मिल जाता है व google इसे पॉजिटिव मानता है जिससे आपकी website की रैंक फास्टर बढती है 

3.High Quality Backlink :-अगर आप ऐसे जगह से backlink बनाते है जिसकी रेटिंग बढिया है उसे ही High Quality Backlink  कहते है अगर आप 100 low Quality Backlink व 1 High Quality Backlink  तो ये एक बराबर है इसीलिए हमेसा कोसिस करे की High Quality Backlink  ही बनाये 

4.low Quality Backlink ;- high quality का उल्टा है low Quality Backlink  जो website बेकार होती है जैसे फेक product ,घटिया contact ,iligal , तो ऐसे website से backlink लेने से बचे 

5.spam backlins;-आप ऐसे tool का इस्तमाल न करे जो एक साथ हजारो backlink देते है क्योकि पहली बात तो वो backlink low quality की होती है दूसरा google एक साथ इतनी backlinks को spam मानता है तो ऐसा बिलकुल भी ना करे 

6.Internal links ;- जो links आपकी same ही website की किसी दूसरी पेज या पोस्ट पर जाते है उन्हें backlink नही मानते है व उन्हें Internal links  कहते है बढ़िया ranking के लिए 4% से ज्यादा Internal links न दे 

7.External links;- जो links आपकी website से किसी और website या आपके ही किसी और blog पर जाते है उन links को External links कहते है तो हमेशा अपने पेज में high quality पेज के ही links add करे 
 
 backlink दो प्रकार की होती है एक तो dofollow backlink व दूसरी nofollow  अगर आप इनके बारे में पुरे विस्तार से  जरुरु जाने तो इस पोस्ट को पढ़े click hare
            
अब भी अगर आपका  कोई सवाल है तो कमेंट करे |

CONCLUSION

                आज हमने आपको backlink kya hai | What Is Backlink in  Hindi के बारे में बताया है। आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें जरूर बताये यदि अच्छी लगी तो share करना बिलकुल भी ना भूलें। हम रोज नयी नयी जानकारी देते रहते है तो हमारे blog की email सर्विस से जरुरु जुड़े । ताकि नयी पोस्ट publish होने पर हम आपको सूचित कर सकें। अपने सवाल कमेंट में पूछे

Google Classroom Kya Hai ?

आजकल की दुनिया में सबकुछ डिजिटल होता जा रहा है ऐसे में हमारे आसपास का समाज भी डिजिटल बन रहा है जिसमे की लगभग सभी काम  डिजिटल हो गये है तो ऐसे समय में google ने एक product lunch किया है जिसका नाम Google Classroom है जो की आपके बहुत काम का है जो users पढाई करते है उन्होंने कभी ना कभी किसी website या youtube का इस्तमाल किया होगा तो Google Classroom आपको live class लगाने में मदद करता है व ये सुरक्षित  है तो चलिए जानते Google Classroom  क्या है ? full information in hindi में विस्तार से व अगर आपको पोस्ट पसद आये तो एक प्यारा सा कमेंट जरुर करे
Google Classroom kya hai
Google Classroom kya hai

Google Classroom kya hai

तो Classroom एक google का प्रोडक्ट है जिसे Techers and student के लिए बनाया गया है जिसका इस्तमाल का कर students live अपने questions and answers दे सकते है साथ में file भी share की जा सकती है ये खासकर schools और techers व non profiteble के लिए बनाया गया है व इनके लिए ये बिलकुल free है

Google Classroom kaise use kare

अब जानते है की Classroom का इस्तमाल कैसे करते है
  1. इसका use करने के लिए आपके पास एक gmail अकाउंट होना जरूरी है 
  2. अब आपको https://classroom.google.com/ website में जाना है 
  3. व अपने gmail अकाउंट से log इन करे 

How to Create Class

How to Create Class
How to Create Class
अब अगर आप एक न्यू यूजर है तो आपको + के आइकॉन पर क्लिक करना है आपके सामने दो विकल्प आ जायेगे join class और create class आपको create class पर क्लीक करना है 
create class  fill data
create class  fill data
अब मागी गयी सभी जानकारिया भरे जैसे class name ,section ,subject आदि व create के बटन को दबाये आपकी class बन जाएगी

How to Invite students

अब अगर आप students को class में invite करना चाहते है तो people tab पर क्लीक करे व  अब आपके student आप्शन  में class कोड dikhai दे रहा है ये आप उनके साथ शेयर करके या + के आइकॉन पर क्लिक कर   email से भी invite कर सकते है 
 active students
 active students
अब आप student जो मोबाइल पर है उन्हें इसका app डाउनलोड करवाए व log इन के बात + के आइकॉन पर क्लीक कर join class के विकल्प का इस्तमाल कर आपके द्वारा दिया गया कोड डाल कर class join कर सकते है सभी active students आपको  people tab  में दिखाई देगे

Create A Assignment

अगर आप एक Assignment बनाना चाहते है तो आप classwork tab पर क्लिक करे व अब assignments and questions बना सकते है इसके अलावा भी यहा आपको कई और feature देखने को मिल जायेगे जो आपके बड़े काम आयेगे 
Create A Assignment
Create A Assignment
अब आप create के बटन को दबा assignments को select करे  अब आपको आपके assignments  का titel introduction व class और students सभी या selected व points व अन्य जानकारिया भरनी है 
आप चाहे तो कोई लिंक youtube विडियो या file भी इसमें अपलोड कर सकते है अब आखिर में आपको अगर इस assignments  को अभी सभी के पास भेजना है तो assig और किसी selected date या time को भेजना है तो schedule और बाद के लिए save करने के लिए  save draft कर सकते है 

CONCLUSION


                आज हमने आपको Google Classroom kya hai Hindi के बारे में बताया है। आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें जरूर बताये यदि अच्छी लगी तो share करना बिलकुल भी ना भूलें। हम रोज नयी नयी जानकारी देते रहते है तो हमारे blog की email सर्विस से जरुरु जुड़े । ताकि नयी पोस्ट publish होने पर हम आपको सूचित कर सकें। अपने सवाल कमेंट में पूछे

The Best Useful Chrome Extension

हेल्लो दोस्तों आज हम बात करेगे ऐसे Chrome Extension के बारे में बतायेगे जो आपको बहुत काम आने वाले है जो आपकी जिन्दगी को आसान बना देगे व आपके कीमती समय को बचायेगे और जो blogger या youtuber है उनके लिए बेस्ट है ये आपके काम को आधे से भी कम करदेगे तो चलिए जानते है  free The Best Useful Chrome Extension के बारे में और आपको जो Chrome Extension सबसे ज्यादा पसद आये उसे  कमेंट में  जरुर बताये
The Best Useful Chrome Extension
The Best Useful Chrome Extension

The Best Useful Chrome Extension


                  दोस्तों ये Chrome Extension आपकी आँखों को बचाता है व आपके बिजली को भी बचाता है दरासल ये Chrome Extension youtube जैसे website पर विडियो चलने पर विडियो स्क्रीन के अलावा जितना भी background बचता है उसे डार्क कर देता है व जैसे ही video पूरा होता है या रुकता है तो ये automatic वापस normal brightness कर देता है ये काफी usefull Chrome Extension है आप इसे एक बार जरुर try करे

                      अब  काम करते समय videos न देख पाने की समस्या तो सभी को होती है ये Chrome Extension आपके youtube विडियो को एक क्लिक में आप जहा चाहे जिस साइज़ में चाहे उस जगह दिखता है जिससे आप चाहे pc में work करे या ऑनलाइन  आपको ये खूब पसंद आएगा

                       आज के समय में मोबाइल डाटा की कीमत बढती जा रही है ऐसे में सभी चाहते है की उनका डाटा कम से कम इस्तमाल हो तो ये Chrome Extension ऐसे ही लोगो के लिए है ये आपके द्वारा जो website देखी जाती है या youtube देखते है तो उनमे आने वाली ads को नही आने  देता है जिससे आपका 20% तक डाटा save हो जाता है और जिस भी website पर आप खुद ads देखना चाहते है तो एक क्लीक में इसे बंद कर सकते है

                    आप में से बहुत से स्टूडेंट या blogger होगे जिनको लगभग किसी न किसी website से कोई text कॉपी करते ही रहते है पर आजकल बहुत सारी website पर कॉपी नही होता है वो डाटा सुरक्षित होता है तो ये Chrome Extension आपको मात्र एक क्लीक में किसी भी website से text कॉपी करने देता है और ये बिलकुल फ्री है

                      आप ने बहुत बार देखा होगा की कुछ website पर english या किसी और भाषा में कोई text लिखे होते है जिनको समझने के लिए आप translate का इस्तमाल करते है तो ये Chrome Extension आपका time बचाएगा ये अपने आप जान लेगा की text कोनसी भाषा में लिखा है व उसको आपके मंपसद भाषा में बदल देगा आपको केवल उस लाइन को select करना है और माउस का right क्लिक करना है यहा आपको translate text into का आप्शन मिल जायेगा उस पर क्लीक करे लो हो गया translate

                    जो blogger या wordpress या website बनाते है उन लोगो को website को अलग अलग device पर चेक करना होता है तो इस काम को ये Chrome Extension आसन बना डेगा इस Chrome Extension में केवल एक क्लीक में आप android , ipad , iphone, teblate, windows phone, chrome , firefox, या internet explorer मोड में जा सकते है

                     ये blogger या website बनाने बालो के लिए बेस्ट है ये Chrome Extension आपको nofollow या noindex links को website में हाईलाइट करके दिखता है जिससे आपको किसी और tool की जरूरत नही पड़ती ये automatic work करता है

                  अब blogger या website devloper इस Chrome Extension  का इस्तमाल कर आसानी से पता लगा सकते है की कोई website ,blogger या wordpress या किसी भी platform पर बनी हुई है जब भी आप कोई website ओपन करेगे तब ये Chrome Extension  खुद का ico उसी platform का बना लेगा जिसपर वो website  बनी हुई है ये automatic work  करता है

                        जब भी govt या सर्वर या कोई व्यक्ति किसी website को बंद कर देता है तो आप इस Chrome Extension  की मदद से किसी भी देश का vpn जोड़ कर उस website को चला सकते है

             जो log youtuber है उनकी जिन्दगी का सबसे ज्यादा time तो keyword ,और ranking टॉपिक्स पर खोज करते हुए ही चला जाता है तो Chrome Extension  आपका कीमती समय बचाएगा व जब भी आप youtube पर विडियो अपलोड करेगे तो ये automatic keyword दिखायेगा व आप जो keyword लगायेगे इनकी लाइव रैंक क्या है ये भी बताये गा इसके अलावा इसमें भट सारे और भी feature है आप इसे एक बार try जरुर करे

                  जो log न्यू amp technology पर काम कर रहे है तो उनकी लाइफ आसन बनाएगा ये Chrome Extension  ये आपको आपके webpage के सरे amp error बतायेगा आपको कोई भी website में जा कर चेक नही करना पड़ेगा ये लाइव आपको डाटा शो करता है

                         website की रैंक चेक करने के लिए बार बार आपको किसी भी website पर जाने की जरूरत नही है ये Chrome Extension  आपको जैसे ही आप कोई website ओपन करोगे उसकी रैंक दिखा देगा जिससे आप अपनी website की ही नही बल्कि सभी website की रैंक चेक कर सकते है

                 ये Chrome Extension  google की तरफ से है जो log अपने लाइव यूजर या डाटा देखने के लिए बार बार analitycs की website पर जाते है उनको इसे इस्तमाल करना चाहिए जैसे ही आप अपनी website ओपन करेगे ये आपको live users और अन्य डाटा शो करेगा जिससे आपका काम आसन होता है

                  आप जब भी कोई website open करेगा उसमे google के सभी tags जो उसमे इस्तमाल हो रहे है उनको ये दिखता है इसकी मदद से आप खुद की website के tags error को सही कर सकते है 
                     जब भी आप google में कोई search करेगे तो उस टॉपिक के टॉप ranking keyword आपको ये Chrome Extension  फ्री में दिखा देता है जिसका इस्तमाल आप खुद की website के title लिखने या पोस्ट लिखने में कर रैंक कर सकते है आपको जो Chrome Extension  सबसे ज्यादा पसद आया है उसे कमेंट में जरुर लिखे

CONCLUSION

              आज हमने आपको The Best Useful Chrome Extension Hindi के बारे में बताया है। आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें जरूर बताये यदि अच्छी लगी तो share करना बिलकुल भी ना भूलें। हम रोज नयी नयी जानकारी देते रहते है तो हमारे blog की email सर्विस से जरुरु जुड़े । ताकि नयी पोस्ट publish होने पर हम आपको सूचित कर सकें। अपने सवाल कमेंट में पूछे

Youtube Play button Kaise Milta hai ?

तो दोस्तों आज हम बात करेगे की youtube play button kya hai ? व youtube play button kaise milta hai व ये किसको मिलता है आएये जानते है इसके बारे में तो जैसा की हम जानते है की जो youtuber एक निधारित सब्सक्राइबर पुरे कर लेता है उसको ये अवार्ड मिलता है तो अगर ये पोस्ट आपको पसद आती है तो एक प्यारा सा कमेंट जरुर करे
Youtube Play button Kaise Milta hai ?
Youtube Play button Kaise Milta hai ?

youtube play button kya hai

             जैसा की हमने पहले ही बताया है की जब भी कोई youtuber कोई निधारित सब्सक्राइबर पुरे करता है तो उसको motivate करने के लिए youtube एक रिवॉर्ड देता है जिसे youtube प्ले बटन कहते है ये play button कम से कम 1 लाख subscriber से शुरू होता है व अलग अलग रिवॉर्ड मिलते है

Youtube play button Types 

     तो दोस्तों अभी तक तो इतने ही प्रकार के अवार्ड देखने को मिले है अगर भविष्य में कोई youtuber इसके भी आगे subscriber लाता है तो youtube new award भी बनाएगा

  • 1.Youtube Silver Play Button 
Youtube की तरफ से सबसे पहला अवार्ड जो की किसी भी youtuber या channels अपने पहले 100000 (100k ) subscriber पुरे कर लेता है उनको मिलता है आपने बहुत सारे youtube channels पर इसके unboxing videos मिल जाएगी 

  • 2.Youtube Gold Play Button
Youtube की तरफ से  दूसरा अवार्ड है गोल्ड प्ले बटन जो की YouTube Creator Awards उनको मिलता है जिनके channels पर 1000000 (1Million ) सब्सक्राइबर हो  

  • 3.Youtube Diamond Play Button
तो Diamond Play Button काफी कम लोगो के पास होता है इसे लेने के लिए बहुत ही ज्यादा महेनत लगती है  और ये 10 मिलियन यानि 1 करोड़ subscriber पर मिलता है 


  • 4.Youtube Ruby Play Button
इसके बाद बारी आती है रूबी प्ले बटन की जो की आपको 50 millions सब्सक्राइबर होने पर मिलता है ये अवार्ड आपको पूरी दुनिया में कुछ ही लोगो के पास मिलेगा 


  • 5.Youtube Red Diamond Play Button
सबसे आखिर में अब तक का सबसे बड़ा अवार्ड है Youtube Red Diamond Play Button इसे लेने के लिए आपके पास 100 millions सब्सक्राइबर होने पर मिलता है

Youtube play button  कैसे ले ?

                     जैसा आपने देखा होगा की youtuber के पास इनमे से कोई न कोई अवार्ड होता ही है मगर ये उनको केवल सब्सक्राइबर पुरे करने से नही मिलता बल्कि इसके लिए उन्हें सब्सक्राइबर पुरे होने पर एक फॉर्म भरना पड़ता है तो चलिए जानते है की कैसे ये आवर्ड लेते है 

step1 Get Redeem code ;- ये कोड आपको आपके चेंनल पर 100k कम्पलीट होने पर आपके channels में notification आ जाता है जहा आपको कोड व अप्लाई लिंक दोनों मिल जाते है अगर वहा नही मिलता तो आपको email में मिल जायेगा अगर काफी समय बाद भी आपको कोड नही मिलता तो आप creator.support@youtube.com पर मेल कर उनसे कोड माग सकते है 

step2 Apply for play button;-अब आप https://reward-redemption.appspot.com/enter-redemption-code पर जाये
Apply for play button 2
Apply for play button
 
व आपकी जिस जीमेल से आपका channel बना है उस से log इन करे अब आप अपना redeem कोड डाले अब i'm not a robot पर क्लिक करे व टर्म एंड कंडीशन को acept करे  व continue पर दबाये 
fill channels name
fill channels name 
अब आपे सामने न्यू पेज ओपन होगा जिसमे आपको आपके चेंनल का नाम डालना है 
Apply for play button contact detail  fill
Apply for play button contact detail  fill
अब आपको contact detail डालना है जहा आपको आपका रिवॉर्ड मगवाना है और submit कर दे 

अब आपका रिवॉर्ड आपके एड्रेस पर 2 सप्ताह से 2 महीनों के बिच आ जायेगा 
इसी तरह आपको गोल्ड व इसके आगे के रिवॉर्ड के लिए अप्लाई करना होगा 

CONCLUSION 

              आज हमने आपको Youtube Play button Kaise Milta hai ? Hindi के बारे में बताया है। आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें जरूर बताये यदि अच्छी लगी तो share करना बिलकुल भी ना भूलें। हम रोज नयी नयी जानकारी देते रहते है तो हमारे blog की email सर्विस से जरुरु जुड़े । ताकि नयी पोस्ट publish होने पर हम आपको सूचित कर सकें। अपने सवाल कमेंट में पूछे

Google Analytics Me Bonus rate kya hai

हेल्लो दोस्तों आज हम बात करेगे  की Google Analytics Me Bonuse rate kya hai है व इससे हमारी website blogger या wordpress की ranking में क्या फर्क पड़ता है व इसे पूर्ण रूप से समझाया गया है तो आपको हम बतायेगे What Is Bonus rate in google analytics तो अगर पोस्ट पसद आये तो एक प्यारा सा कमेंट जरुर  करे
Google Analytics Me Bonus rate kya hai
Google Analytics Me Bonus rate kya hai

 What Is Bonus rate

        तो दोस्तों bonus rate  किसी website पर single visit का परसेंटेज होता है यानी अगर आपकी site पर 100 व्यक्ति आते है व उनमे से 55 व्यक्ति केवल उसी पेज को देखते है जिस पर वो आये थे व आपकी site से बहार निकल जाते है यानि bounce कर जाते है तो आपकी bounce rate 55 % होगी यानि ये आपके users के single पेज visit को दर्शाता है व आपको ये बताता है की आपके कितने users आपकी website पर अन्य पेज देख रहे है व सीधे बहार जा रहे है
अब आपकी website की bounce rate जितना कम होगी उतना ही आपके लिए बढिया है
लगभग website का bonus rate इस प्रकार होता है

  1. Content वाली websites – 40-60%
  2.  Lead generate करने वाली websites – 30-50% 
  3. Blogs – 70-98%
  4.  Retail कारोबार करने वाली sites – 20-40% 
  5. कोई services provide करने वाली websites – 10-30% 
  6. Landing Pages – 70-90%

Bounce Rate बढ़ने के कारण ?

             तो अगर आपकी website का bounce rate ज्यादा है तो इसके निम्न कारण हो सकते है 
1.Website design ;-किसी भी website पर high bonus rate का मुख्य कारण है website design क्योकि यूजर सबसे पहले आपकी site को देखता है अगर उसको आपकी Site design पसद नही आती तो वो तुरंत exit कर देता है 

2.Single Page Website:-तो अगर आपकी website भी single पेज website है तो फिर यूजर किसी और पेज पर जा नही सकता और आपका bounce rate high रहता है 

3.website speed ;-अगर आपकी website की लोडिंग स्पीड कम है तो यूजर इतना time इतजार नही करता है व आपकी site को बिना देखे ही exit कर देगा 

4.users type ;- कुछ users को आपकी website पसद होती है व वो आपके अन्य पोस्ट को भी पढना पसद करते है इसीलिए ऐसा content लिखे जो आपके users को आपके साथ जोड़े रखे 

5.bad quality content ;-यानि आपकी website पर यूजर को वो इनफार्मेशन न मिलना जिसके लिए वो आपकी website पर आया है  ये सबसे बड़ा कारण है 

Bounce Rate को कम कैसे करें?

1.select right visitors;- आपको सही visitor चुनना चाहिए जैसे किसी को विडियो देखना है और आप अपनी site पर गलत कीवर्ड यूज़ करते है तो वो आपकी site पर आते ही content देखकर exit कर देगा इसलिए सही titel व keyword और जानकारी देनी चाहिए 

2. Website design ;-अपनी site की theme में colors और दूसरी visual चीज़ों का combination कुछ ऐसा रखिये कि लोगों को अच्छा लगे और वे आपकी site को और browse करना चाहें

3.website load time ;-आपकी website के लोड time को कम से कम रखे क्युकी यही आपको न केवल यूजर बल्कि रैंक भी दिलवाता है 

4.quality of content ;- आप हमेसा कोसिस करो की आपके users को सारी जानकारी आसानी से मिल सके व आपका डाटा कॉपी किया न हो व एसा डाटा लिखे जो आपके users को पसद हो 

Bounce Rate को कैसे चेक करे ?

bounce rate check करने के लिए आप अपने analitycs में log इन करे
 व reports >>behavior>>site Content>>all pages में जाये आपको यह सभी पेजेस का डाटा मिल जायेगा 
cheking bonuse rate in analitycs
cheking bonuse rate in analitycs

CONCLUSION 

 आज हमने आपको Google Analytics Me Bonus rate kya hai  Hindi के बारे में बताया है। आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें जरूर बताये यदि अच्छी लगी तो share करना बिलकुल भी ना भूलें। हम रोज नयी नयी जानकारी देते रहते है तो हमारे blog की email सर्विस से जरुरु जुड़े । ताकि नयी पोस्ट publish होने पर हम आपको सूचित कर सकें। अपने सवाल कमेंट में पूछे

iOS Kya Hota hai | what Is ios system

हाय फ्रेंड्स तो आप सभी ने कभी ना कभी apple के iphone के बारे में सुना या देखा होगा व इसका इस्तमाल भी किया होगा तो जो log नही जानते की iphone एक अलग type के system पर काम करता है जिसे ios या apple ios कहते है आज हम इसी टॉपिक पर बात करेगे की ios कितने प्रकार का है व कब बना व इसमें क्या खाश बात है तो अगर पोस्ट पसद आये तो एक प्यारा सा कमेंट जरुर करे
iOS Kya Hota hai | what Is ios system
iOS Kya Hota hai | what Is ios system

ios kya hai ?

               जिस प्रकार से  android व windows दोनो ही अलग अलग oprating seystem है जो की किसी भी phone या pc को चलते है उसी प्रकार iOS भी एक oprating seystem है जो की apple company द्वारा बनाया गया है
और ये apple के सारे प्रोडक्ट में काम करता है जेसे की iphone ipad iwatch आदि
ios seystem multi tuch यानि अगुलियो के हिसाब से चलता है कोइ भी कार्य करने के लिए
स्टीवन जॉब्स ने सबसे पहले iphone के लिए जो oprating seystem lunch किया था 2007 में उसे i phone runs on  os x कहा था
2008 में दुबारा इसका नाम बदलकर iPhone OS कर दिया था
2011 में apple ने इसे reband किया व इसको इसका ios नाम मिला इसे reband करने का कारण था की इसे केवल मोबाइल में यूज़ न कर सभी apple के प्रोडक्ट्स में यूज़ किया जाये जैसे iphone ipad ipod watch
इसमें आप को एक app स्टोर मिलता है जिसमे 2 लाख से ज्यादा अप्प्स है मिलता है

iOS के Versions

   तो अब हम apple ios के versions यानि संस्करण के बारे में जानते है

  • iphone OS 1.x
         iphone की दुनिया का पहला version था जो 2007 में आय था व इसमें कम्पनी ने Touch Centric System को लाया था जो users को apple desktop जैसा ही लगा था 
  • iphone OS 2.x

    iphone की दुनिया का दूसरा version है जिसे 2008 में लाया या जिसमे  3g network का सपोर्ट था साथ ही apple स्टोर को भी लाया गया जिससे यूजर apps डाउनलोड कर सके  जो iphone OS 1.x के users थे उनको फ्री में iphone OS 2.x का updates दे दिया गया था

  • iphone OS 3.x
   ये updates 2009 आया था जिसमे  Iphone 3g  के साथ कुछ न्यू फीचर आये थे जैसे MMS का COPY Pest Cut  करना और कुछ new feature add किये गये थे 

  • iphone OS 4.x
    साल  2010 में, new  operating system को लाया गया एक नए नाम के साथ ‘iOS’. ये  की सभी devices के लिए available नहीं था, और इसे  iPod Touch users Free में download कर सकते थे. इस operating system के साथ, older devices जैसे की iPhone 3G और iPod Touch 2nd Generation नए multitasking features को इस्तमाल नहीं कर सकते हैं या वो ability जिससे की एक wallpaper को set किया जाता है home screen में. लेकिन बाकि सभी recent devices, नयी multitasking features को offer कर सकती थी.
  • iphone OS 5.x
ये अपडेट साल 2011 में दिया जिसमे Newsstand, iCloud, iMessage, Reminder और iTunes के साथ Wirelesly Sync जेसे न्यू feature add किये गये थे व iphone में पहली बार लॉक स्क्रीन से ही cemra ओपन करने का feature add किया गया था 
  • iphone OS 6.x
साल  2012 में, इसे लाया गया  ये केवल iPhone 3G और उसके बाद के versions को support करता था, iPod Touch 4thGeneration और बाद के version, इसके साथ iPad 2 और बाद के version. इस version में Apple ने Google Maps और Youtube को default apps से हटा दिया पर इन्हें free में App Store से download किया जा सकता था  Apple ने  smoother zooming और spoken navigation (वो भी बहुत से languages में रखा) इसमें रखा. साथ ही इसमें Passbook app को को लाया गया, और Siri को  और ज्यादा improve किया गया इसके अलावा नए privacy settings और location services को भी इसमें add किया गया
  • iphone OS 7.x
इसे साल  2013 में लाया गया  और ये available था iPhone 4 और उसके बाद के लिए, iPod Touch 5th Generation और बाद के version, iPad 2 और onwards version के लिए, iPad Mini और onwards version के लिए. इस version ने completely redesigned कर दिया था interface को  नए features इसमेंadd भी किये गए जैसे की AirDrop (wireless sharing), ज्यादा app store search options, एक new camera interface, साथ में multitasking ability (जिससे एक समय में बहुत सारे tasks को operate किया जा सकता था) इत्यादि को. इसमें multitasking feature के आ जाने से ये enable करता है apps को background में updates करने के लिए.
  • iphone OS 8.x
साल 2014 केApple ने announce किया iOS 8 को, इसे iOS का सबसे बड़ा change माना जाएगा  App Store लाने के  बाद का. इसupdates में बहुत से नए features को लाया  गया जैसे की Apple Pay platform, Reader View Safari ,Family Sharing, और  UI improvements भी किये 
  • iphone OS 9.x
इसे साल  2015 लाया गया  iOS 9 के आने से सनमें, इसने भी Platform में कई सारे improvements लाये.  इसके साथ 3D Touch का support भी प्रदान किया गया इसके अलावा पासबुक ऐप को wallet के नाम से रिनेम किया गया था। साथ ही iOS 9 में Wedget Notification को पहली बार फीचर किया गया था
  • iphone OS 10.x
इस updates में slide to unlock mechanism को  remove कर दिया औरTouchID home button की press feature को जोड़ दिया  Home app जिससे control किया जा सकता था Homekit-enabled home automation hardware को. Third party apps भी अब Siri Voice Assistant का advantage ले सकते थे.
  • iphone OS 11.x
इस updates में सभी तरीके के redesign किया गया जैसे  Calculator ,Phone को नया look दिया गया, और Lock screen, Control Center को पूरी तरह से redesigned किया गया.
  • iphone OS 12.x
इस वर्जन के जरिए performance और quality improvements  को इम्प्रूव किया गया। नए फीचर्स जैसे Screen Time, Groupface Time आदि शामिल किए गए
  • iOS 13.2.X
ये अभी का letest updates है जो की जिसमे की performens पर ध्यान दिया गया व बग्स को हटाया गया है इसमें डीप फ्यूजन कैमरा फीचर शामिल किया गया है

CONCLUSION 

    आज हमने आपको iOS Kya Hota hai | what Is ios system Hindi के बारे में बताया है। आपको यह जानकारी कैसी लगी हमें जरूर बताये यदि अच्छी लगी तो share करना बिलकुल भी ना भूलें। हम रोज नयी नयी जानकारी देते रहते है तो हमारे blog की email सर्विस से जरुरु जुड़े । ताकि नयी पोस्ट publish होने पर हम आपको सूचित कर सकें। अपने सवाल कमेंट में पूछे